बादाम का फल कैसा होता है

बाथरूम मे सेक्स

बाथरूम मे सेक्स, पहले कुछ देर आराम कर लेते हैं, डॉली किस को तोड़ते हुए और हँसते हुए बोली, और उसने अपनी गान्ड को सिंकॉड लिया जिस से राज और ज़्यादा झटके ना मार सके. नाना2:-अह्ह्ह्ह मेरी जान क्या स्वाद है स्सस्सस्स बहोत दिनों बाद जवान चूत मिली है चाटने अह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह और वो भी रस से लबालब भरी हुई अह्ह्ह्ह्ह्ह्ह।

मैं दीदी की चूत को घूरते हुए अपने हाथ से फिर से अपने लंड को पकड़ के आगे पीछे करने लगा, दीदी मेरे हर झटके के साथ मेरी गोलियों को हिलते हुए देखकर अब भी अपने दाँत से नाख़ून काट रही थी. एक दूसरे को बाहों में लिए, हान्फ्ते हुए, और कड़ी मेहनत के बाद आराम करते हुए, आज के इस दो शरीरों के मिलन के बारे में सोचने लगे.

ठक... ठक.. की आवाज़ थोड़ा धीमी हुई और फिर तेज़ी से और ज़ोर से स्पीड से होने लगी. मैं पागलों की तरह डोर की तरफ देख रहा था. मैने डोर के नॉब को एक हाथ से ज़ोर से घुमाया, और डोर को धक्का मार के हिलाते हुए ज़ोर से चिल्लाया.... तान्या ... दरवाजा खोलो... बाथरूम मे सेक्स प्लीज़... चोद दो भैया... संध्या और कुछ नही बोल पाई, तभी उसके बड़े भाई ने अपना पूरा लंड उसकी चूत में घुसा दिया. ये इतना जल्दी हुआ, कि संध्या के मूँह से एक ज़ोर से दर्द भरी आहह निकल गयी.

एचडी सेक्स ब्लू फिल्म

  1. दीदी ने हां में सिर हिला दिया. मैं थोड़ी देर में चेंज कर के फिर से दीदी के रूम में आ गया. हम काफ़ी देर बैठ के बातें करते रहे, ऐसा लग रहा था हमे एक दूसरे की कंपनी की ज़रूरत है. मैं आधी रात के बाद अपने रूम में जा के सो गया.....
  2. दीदी की शादी धूम-धाम से संपन्न हो गयी, दीदी विदा होते समय, जिस तरह से मेरे गले लगकर रोई, उसको मेरे और दीदी के सिवाय कोई और नही समझ सकता था. मेरी आँखों में भी आँसू थे, और दिल में ऐसी कसक, मानो मैने आज तक जो कुछ हासिल किया था, वो मेरे हाथों से निकला जा रहा हो... సేక్స్ వీడియోలు
  3. jaise hi oosne ooski khuli peeth pe haath rakha to oon laal laal mili ke shareer ke oon nishano ko chute hi mili dard se ro uthi.... मैने उनकी कमर के नीचे उनके लंड वाले हिस्से को देखा, और फिर उनके चेहरे की तरफ. उनका लंड खड़ा हुआ था. सब को पता चल रहा है, कुछ छुपा हुआ नही है, मैने मुस्कुराते हुए जवाब दिया.
  4. बाथरूम मे सेक्स...मैं जल्दी जल्दी बिस्तर से नीचे उतरा और अपनी निक्कर और टी-शर्ट पहन ली और प्रिया के कपड़े उसे देते हुए कहा, जान, जल्दी से कपड़े पहन लो काफी देर हो चुकी है। तुम्हारी मॉम तुम्हें ढूंढते हुए कहीं यहाँ आ जाये। मैं उठा और अपना हाथ उसके टॉप के नीचे से अंदर डाला और उसकी मुलायम चुची को पकड़ लिया. उसकी चुची काफी गर्म हो रही थी कुछ तनी भी हुई थी।
  5. बेडरूम में पहुँच कर मैं बोला, तो फिर आज की इस शाम को यादगार बना देते हैं. मुन्नी बुआ थोड़ा मुस्कुराइ, लेकिन मैं देख रहा था, वो थोड़ा परेशान और नर्वस थी. हां आप के प्रोफेशन में तो ये लगा ही रहता होगा, लेकिन जवान लड़कों के साथ ऐसा कम हो होता होगा, क्यों मौसी? मैने पूछा.

राजस्थानी में चुदाई

अगले आधे घंटे हम दोनो के बीच शांति छाइ रही. बोलिंग का खेल, मानो मस्ती ना होकर एक ऐसा काम हो गया था जिसे हम ज़बरदस्ती कर रहे थे. मुझे कुछ समझ में नही आ रहा था.

15 से 20 मिनट के अन्दर ही मैं गहरी नींद में सो गया। बस की खिड़की से आती हुई ठंडी ठंडी हवा मुझे और भी सुकून दे रही थी। लगभग 15 मिनट के बाद प्रिया ने मेरे होठों को अपने होठों से चूसना शुरू किया और अपने हाथों को मेरी पीठ पर ले जा कर मुझे सहलाने लगी। धीरे धीरे उसने अपनी कमर को थोड़ी सी हरकत दी और अपनी गांड को ऊपर की तरफ किया।

बाथरूम मे सेक्स,मैं और मौसी दोनो ही वासना की एक ऐसी लहर में बहते जा रहे थे, जिसका अनुभव हमने पहले कभी नही किया था. मेरे शरीर की हर एक नस में आग लगी हुई थी, और मैं मौसी को इस तरह से किस किए जा रहा था, जिस से उनका अपने उपर से नियंत्रण समाप्त हो चुका था. मौसी की चूत में भी आग लग चुकी थी, और वो पनियाने लगी थी.

मैंने अपनी गर्दन थोड़ी मोड़ी तो देखा कि रिंकी की मम्मी यानी स्मिता आंटी मुझे घूर रही थीं। मैंने अपनी गर्दन नीचे की और जैसे तैसे चुपचाप खाना खाकर नीचे चला आया।

faraz puri tarike se dhakke pelte huye kamla ke uksaane pe uttejit ki simaa pe aa rhaa tha....fhir oosne chuchiya baari baari se chusste huye ooske kathor kaale nipples pe apni zabaan chalane laga....haaye dayaa aahhh aa gayiii ssss......kamla ne kasske faraz ko jakada aur wo jhadh gayi...मोबाइल शाप की वरदान मराठी निबंध

उसका दरवााज़ा बंद हो गया लेकिन मैं एक मिनिट वहीं खड़ा रहा और कार के चाबियों को अपनी उंगलियों पर घुमाता रहा. मैं कार की तरफ चलते हुए चमकते हुए चंद्रमा को देखने लगा जो आज तान्या को तीसरी बार, हर बार की तरह मेरे मूँह पर दरवाजा बंद कर के अंदर घुसते हुए देख चुका था और इस बात का गवाह था. dekh samar main nahi janti teri kya problem hai? tu apna ghar basaa ye sab mat kar kisi din phas gaya to bol rahi hoo shaadi kar lega sab theek ho jayegi

मैने थोड़ा चौंकने का नाटक करते हुए कहा, ओओओह्ह्ह, आइ’म सॉरी मम्मी, मैने एक हाथ से लंड को पकड़े हुए ही, दूसरे हाथ से अपने हेडफोन्स हटाए.

अब मुझसे जवाब देते नही बन रहा था इसलिए मैने बात घुमाने की कोशिश की और उठते हुए बोला तू नही समझेगी, अब मैं ज़रा एक काम से अपने एक दोस्त के पास जा रहा हूँ तू घर का ध्यान रखना वैसे भी थोड़ी देर मे पापा मम्मी आजाएँगे मैं दो घंटे बाद वापस आ जाउन्गा,बाथरूम मे सेक्स मैं भैया के पास जाकर उनके साथ चिपकाना चाहती थी. लेकिन मुझे डर लग रहा था. इसलिए, मैने उनके उपर झुक कर भैया को गाल पर किस कर लिया, और फुसफुसा कर बोली, यू'आर वेलकम. गुड नाइट.

News